12वी के बाद कोर्स की लिस्ट – Course List After 12th

12th ke baad course list

यदि आपने अपनी 12 वीं कक्षा पास कर ली है और आप दुविधा में हैं कि 12 वीं के बाद क्या करना चाहिए, तो इस पोस्ट में दी गयी जानकारी आपकी यह दुविधा दूर कर देगी, आपको 12 वीं के बाद कौनसा करियर विकल्प या पाठ्यक्रम चुनना चाहिए, जानिए 12th ke baad kya kare OR 12th ke baad course list

जैसा की आप जानते है की 12वी कक्षा साइन्स, कॉमर्स और आर्ट्स स्ट्रीम से होती है, ज़्यादातर स्टूडेंट्स अपनी स्ट्रीम के हिसाब से ही अपने करियर के लिए पाठ्यक्रम चुनते है, जिसमे से साइन्स वाले इंजिनियरिंग और मेडिकल लाइन में जाते है, कॉमर्स वाले अकाउंट से संबंधित लाइन में और आर्ट्स वाले आर्ट्स से जुड़े फील्ड में जाते है, इन तीनो स्ट्रीम के स्टूडेंट्स के लिए करियर विकल्प की जानकारी विस्तार से नीचे दी गयी है।

12th ke baad Course List

12th ke baad course की लिस्ट में से आपको चुनना है कि आपको क्या करना है या कौनसा कोर्स करना है, जो कि आपको रूचि और आपके 12वी की स्ट्रीम पर निर्भर करता है।

1. अभियांत्रिकी (Engineering)

भारत में इंजिनियरिंग कॉलेजों की भरमार है और इन सभी कॉलेजों से हर साल स्नातक होने वाले लगभग एक मिलियन इंजीनियरों में से सिर्फ़ आधे इंजिनियर ही रोजगार पाने योग्य होते है, बाकी आधे इंजिनियरिंग स्नातक नौकरी पाने में असक्षम रहते है क्योंकि उनके पास इंजीनियरिंग डिग्री से मेल खाने वाला कौशल नही होता हैं।

यदि आपका सपना है एक इंजिनियर बनाना तो आपको IIT (इंडियन इनस्टिट्यूट्स ऑफ टेक्नालजी) जैसे बड़े इंजिनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए एंट्रेन्स एग्जाम यानी प्रवेश परीक्षा (Joint Entrance Examination/IIT-JEE) की तैयारी करनी चाहिए हालाँकि इसमे भी बहुत प्रतिस्पर्धा है।

इंजीनियरों के लिए कई कैरियर विकल्प उपलब्ध है यानी भारत के साथ साथ विदेशों में भी कुशल इंजिनीयर्स की बहुत अच्छी मांग है। कौशल व सक्षम इंजीनियरिंग स्नातकों के लिए नौकरी की संभावनाएं निजी क्षेत्र से लेकर सार्वजनिक क्षेत्र तक हमेशा बनी रहेगी। इंजीनियरिंग करने के लिए खुद के लिए सही स्ट्रीम चुनना इंजीनियरिंग में प्रवेश का सबसे आवश्यक भाग है, कक्षा 12 पास करने के बाद इंजिनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए भारत में उपलब्ध इंजिनियरिंग पाठ्यक्रमों की जानकारी नीचे दी गयी है –

Engineering Courses 

  • कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग (CSE)
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग (ECE)
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग (ME)
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (EC)
  • सिविल इंजीनियरिंग (CE)
  • केमिकल इंजीनियरिंग (Chem Eng.)
  • बायोकेमिकल इंजीनियरिंग (BME)
  • एयरोस्पेस इंजीनियरिंग (AE)

2. एनडीए और नौसेना अकादमी (NDA and Naval Academy)

साइन्स गणित वाले स्टूडेंट्स के लिए 12 वीं के बाद राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में शामिल होना एक अच्छा विकल्प है, एनडीए और नेवल एकेडमी से आपको स्नातक की डिग्री प्राप्त होती है, एनडीए या नौसेना जैसी अकादमी में शामिल होने के कई तरह के फायदे है जैसे आप एक अच्छे रैंक पर भारतीय सेना, भारतीय वायु सेना या भारतीय नौसेना में शामिल हो सकते है और एक भारतीय सशस्त्र बल अधिकारी के रूप में आप उत्कृष्ट सुविधाओं के हकदार होते हैं, इसके साथ ही आपको समाज में अपार सम्मान प्राप्त होता हैं।

3. मेडिकल की पढ़ाई (Medical Studies)

भारत में हर साल कई हज़ारो की संख्या डॉक्टर्स मेडिकल की पढ़ाई करके मेडिकल कॉलेजों से निकलते है जिनमे से कुछ ही डॉक्टर अच्छा रोजगार प्राप्त करने में सक्षम होते है और कुछ डॉक्टर पर्याप्त कौशल ना होने के कारण से रोजगार प्राप्त नही कर पाते हैं, रोज़गार के अलावा यदि किसी को खुद का क्लिनिक खोलना हो तो, वो ज़रूरी संसाधन नहीं जुटा पाते हैं।

यदि आपको डॉक्टर बनाना है तो आपको मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए NEET एंट्रेन्स एग्जाम यानी प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है जिससे आपको सरकारी मेडिकल कॉलेज में प्रवेश मिल जाता है और यदि आप प्रवेश परीक्षा पास नही कर पाते है तो आपको किसी निजी/ प्राइवेट मेडिकल कॉलेज में अड्मिशन लेना पड़ेगा जिसकी फीस भरना हर किसी के लिए संभव नही हो पाता है।

12 वीं के बाद के कुछ मेडिकल कोर्स आपको मेडिकल क्षेत्र में कई आकर्षक करियर विकल्प और मेडिकल में उच्च शिक्षा के अवसर प्रदान करते हैं। कक्षा 12 पास करने के बाद खुद के लिए एक लक्ष्य निर्धारित करने के लिए भारत में मेडिकल पाठ्यक्रमों की जानकारी नीचे दी गयी है –

Medical Courses  

  • MBBS/एमबीबीएस (बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी)
  • BDS/बीडीएस (बैचलर ऑफ डेंटल साइंसेज)
  • BHMS (बैचलर ऑफ़ होम्योपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी)
  • BAMS (बैचलर ऑफ़ आयुर्वेदिक मेडिसिन एंड सर्जरी)
  • DHMS (डिप्लोमा इन होमियोपैथिक मेडिसिन एंड सर्जरी)
  • BUMS (यूनानी चिकित्सा में स्नातक)
  • B.V.Sc और AH (पशु चिकित्सा विज्ञान और पशुपालन स्नातक)
  • B.Pharm (बैचलर ऑफ फार्मेसी)
  • D.Pharm (फार्मेसी का डिप्लोमा)
  • BOT (व्यावसायिक चिकित्सा स्नातक)
  • BMLT (बैचलर ऑफ मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी)
  • BPT (बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी)
  • B.Sc नर्सिंग (नर्सिंग में विज्ञान स्नातक)
  • BNYS (प्राकृतिक चिकित्सा और योग विज्ञान स्नातक)

4. दवासाजी का कोर्स (Pharmacy)

यदि आपने 12 वीं कक्षा साइन्स जीवविज्ञान से पूरी की है तो आपके पास दवा कंपनियों, खाद्य-औषधि प्रशासन और विभिन्न सरकारी एजेंसियों में अपना कैरियर बनाने का विकल्प रहता है। फार्मेसी में दो मुख्य पाठ्यक्रम होते हैं, एक ‘डिप्लोमा इन फार्मेसी’ और दूसरा B.Pharma ‘बैचलर इन फार्मेसी’।

भारत में फार्मास्यूटिकल व्यवसाय काफ़ी तेज़ी से बढ़ रहा है और भारतीय फ़ार्मा इंडस्ट्री को दुनिया भर में बढ़ावा मिल रहा है, इसलिए फार्मेसी का कोर्स करना आपके लिए एक सही विकल्प साबित हो सकता है।

5. पोषण विशेषज्ञ और डायटेटिक्स (Nutritionist & Dietetics)

आज ज़्यादातर लोग अपनी सेहत और फिटनेस को लेकर जागरूक हो गये है, इसलिए होटल, रेस्तरां, फास्ट फूड चेन, फुड प्रोसेसर और फुड निर्माता खास रूप से पोषण विशेषज्ञ या आहार विशेषज्ञ जैसे लोगो को नियुक्त करते हैं। यदि आपको न्यूट्रीशनिस्ट & डायटेटिक्स बनने मे रूचि है तो आप पोषण और आहार विज्ञान में स्नातक की डिग्री कर सकते है जो एक उत्कृष्ट ट्रेंडी कैरियर विकल्प है।

6. फोरेन्सिक साइन्स (Forensic Science Course)

विभिन्न वैज्ञानिक क्षेत्रों में प्रगति के बावजूद, भारत अभी भी फोरेंसिक विज्ञानों में पीछे है। हमारे देश की इतनी ज़्यादा आबादी और ज़्यादा अपराध दर के बावजूद यहा केवल सात केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशालाएं हैं जो पूरे देश की सेवा करती है, जिसमे योग्य फोरेंसिक स्टाफ की हमेशा कमी रहती है।

बैचलर ऑफ फोरेंसिक साइंस का कोर्स (BSc Forensic Science 3-Year Graduate Course) भारत के कुछ ही बड़े विश्वविद्यालयों में उपलब्ध पाठ्यक्रम है, यदि आपको इसमे रूचि है तो आप अपनी 12 वीं कक्षा पास करने के बाद इस कोर्स में दाखिल हो सकते हैं। यह कोर्स करने के बाद आप भारत में पुलिस विभागों, राष्ट्रीय जांच एजेंसी और अन्य कानून प्रवर्तन अधिकारियों के साथ फोरेंसिक जांचकर्ता के रूप में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

7. धातुकर्म (Metallurgy Course)

भारत में कुछ ही कॉलेजों में मेटलर्जिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा और बैचलर कोर्स उपलब्ध है, हालाँकि भारत में मेटलर्जिकल करियर का दायरा काफ़ी बढ़ रहा है। इस कोर्स के बाद मेटालर्जिस्टों को कई ऑटोमोबाइल कंपनियों, खनन करने वाली कंपनियों और कई सरकारी विभागों द्वारा नौकरी के लिए नियुक्त किया जाता है।

  • Metallurgical Engineering Course includes Physical Metallurgy, Extractive Metallurgy, and Mineral Processing

8. रोग की पहचान का कोर्स (Medical Diagnostics)

यदि आप स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में काम करना चाहते हैं, तो डॉक्टर बनने के अलावा भी कई सारे कैरियर विकल्प मौजूद है जैसे मेडिकल डायग्नोस्टिक्स… चिकित्सा निदान के लिए मुख्य पाठ्यक्रमों में पैथोलॉजी और माइक्रोबायोलॉजी में बी-एससी, बी-एससी इन रेडियोलॉजी और अल्ट्रासाउंड, रेडियोग्राफी और इमेजिंग टेक्नोलॉजी में बी-एससी जैसे कई कोर्स शामिल है, इन मेडिकल डायग्नोस्टिक्स कोर्स में डिग्री के अलावा डिप्लोमा वाले पाठ्यक्रम भी उपलब्ध होते हैं।

9. आईटीआई पाठ्यक्रम (ITI Courses)

भारत में इंजीनियरिंग और गैर-इंजीनियरिंग क्षेत्रों में 150 से भी ज़्यादा कोर्स सभी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (ITI) के माध्यम से छात्रों के लिए उपलब्ध है, इन सभी पाठ्यक्रमों की लिस्ट बहुत ही लंबी है, जैसे Draftsman Civil, Draftsman Mechanical, Electronics Mechanic, Instrument Mechanic, Electrician, Fitter आदि, यदि आपको इसमे रूचि है तो आप किसी आईटीआई संस्था से संपर्क करके ITI में उपलब्ध सभी पाठ्यक्रमो की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

10. विमानन के पाठ्यक्रम (Aviation Courses)

भारत में एवियेशन यानी विमानन क्षेत्र में एयरपोर्ट मैनेजमेंट डिप्लोमा, एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरिंग, हैवी एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस, डिप्लोमा इन एविओनिक्स जैसे कुछ टॉप कोर्स उपलब्ध है जो 12 वीं के बाद आपको एवियेशन के क्षेत्र में करियर बनाने में मदद कर सकते हैं।

11. एरलाइन केबिन क्रू (Cabin Crew Course)

भारत में एयरलाइन केबिन क्रू को आमतौर पर महिलाओं के लिए एयर होस्टेस और पुरुषों के लिए फ्लाइट स्टीवर्ड कहा जाता है। एयरलाइन केबिन क्रू के रूप में काम करते हुए आप भारत और दुनिया के विभिन्न दिलचस्प स्थानों पर घूम सकते है, जोकि की एक बहुत ही दिलचस्प बात है, केबिन क्रू बनने के लिए कई छोटे कोर्स उपलब्ध है, किसी एयरलाइन कंपनी द्वारा आपका चयन होने के बाद, आपको प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है और फिर आपको नौकरी के लिए नियुक्त किया जाता है। एयरलाइन केबिन क्रू कोर्स की लिस्ट – 

  • एवियेशन अंड हॉस्पिटालिटी मॅनेज्मेंट
  • एर होस्टेस्स ट्रैनिंग
  • एवियेशन हॉस्पिटालिटी अंड ट्रॅवेल मॅनेज्मेंट
  • डिप्लोमा इन प्रोफेशनल कॅबिन क्रू सर्वीसज़
  • डिप्लोमा इन प्रोफेशनल ग्राउंड स्टाफ सर्वीसज़
  • डिप्लोमा इन एरपोर्ट मॅनेज्मेंट & कस्टमर केर
  • डिप्लोमा इन एरलाइन्स मॅनेज्मेंट

12. चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA Course)

गणितीय और विश्लेषणात्मक कौशल में माहिर किसी भी छात्र के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट बनाना सबसे अच्छा कैरियर विकल्प है क्योकि भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंट्स की काफी डिमांड रहती है और किसी भी चार्टर्ड अकाउंटेंट को आसानी से अच्छा पैसा देने वाली नौकरी मिल जाती है, 12 वीं के बाद चार्टर्ड अकाउंटेंट/सीए का कोर्स बहुत ही किफायती साबित होता है, लेकिन चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए काफ़ी मेहनत भी करनी पड़ती है, सीए का कोर्स करने के लिए कुल तीन परीक्षाएं पास करनी होती हैं – सीए फाउंडेशन, सीए इंटरमीडिएट और सीए फाइनल।

13. फाइन आर्ट्स और पाक (Culinary) कला

फाइन आर्ट्स यानी ललित कला में चित्रकारी/पेंटिंग, मूर्तिकला, डिजाइनिंग का काम, धातु का काम आदि शामिल होते है, यह एक बहुत ही ख़ास क्षेत्र है जिसमे आपकी रचनात्मक प्रवृत्ति को काम के रूप में एक शानदार कैरियर बनाने का मौका मिलता है। इसके साथ ही पाक कला का कोर्स आपको बड़े होटल और रेस्तरां में शेफ के रूप में एक नौकरी दिला सकता है। 12 वीं के बाद आप पाक कला में डिप्लोमा या स्नातक और फाइन आर्ट्स का कोर्स करके एक रचनात्मक काम करियर के तौर पर कर सकते है।

14. बैंकिंग, वित्त और बीमा

भारत के बैंकिंग, वित्त और बीमा क्षेत्र में अच्छा करियर बनाने के लिए तीन अलग-अलग पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं जैसे बैंकिंग और वित्त में बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (BBA), बैंकिंग और बीमा में BBA और बैंकिंग और वित्त में विज्ञान स्नातक।

15. इंटीरियर डिजाइन कोर्स

भारत में इंटीरियर डिजाइन बहुत ही तेजी से लोकप्रिय होने वाला कैरियर विकल्प बन चुका है। इस फील्ड में काम करने के लिए ज़रूरी कोर्स में भी कई विकल्प मौजूद है जैसे –

  • B.Sc in Interior Designing Course 
  • B.Des in Interior Designing Course 
  • Interior Architecture Design Course 
  • Diploma in Interior Designing Course 

READ MORE

1 COMMENT

  1. भाई आपसे एक help चाहिए थी मुझे

    मुझे उम्मीद है कि आप मेरी मदद जरूर करोगे।

    मैं आपसे contect करने का बहुत कोशिश किया लेकिन मुझे कोई ऐसा प्लेटफार्म नहीं मिला जहां आपसे बात हो सके। मै नीचे अपना नंबर लिख रहा हूं आप मुझे एक बार जरूर कॉल कीजिएगा। मै आपसे निवेदन कर रहा हूं आपसे request कर रहा हूं आप एक बार मुझे जरूर कॉल कीजिएगा

    6200128822

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here