Importance of English Language in Hindi – अंग्रेजी भाषा का क्या महत्व है?

importance of english essay hindi

Importance of English language in Hindi

English ka mahatva in Hindi

Importance of English essay in Hindi

Angreji par nibandh – अंग्रेजी पर निबंध 

हमारे आसपास के अन्य लोगों के साथ बातचीत करने के मुख्य तरीकों में से मुख्य एक तरीका ‘भाषा’ है जो हमें दूसरे लोगों के संपर्क में रखती है, ऐसी ही एक भाषा ‘अंग्रेजी’ भाषा (English Language) है, जो कि एक अंतर्राष्ट्रीय भाषा है और दुनिया के कई हिस्सों में इस भाषा का उपयोग होता है।

पूरी दुनिया में संचार/कम्यूनिकेशन का माध्यम अंग्रेजी भाषा है, इसके अलावा यह कई देशों में पहली भाषा के रूप में बोली जाती है।

आज, अंग्रेजी भाषा शिक्षा, चिकित्सा, इंजीनियरिंग और व्यवसाय जैसे कई क्षेत्र में प्रमुख भूमिका निभा रही है।

क्या आपने कभी सोचा है,

भारत में अंग्रेजी को क्यों इस्तेमाल किया जाता है?

अंग्रेजी क्यों जरूरी है?

अंग्रेजी भाषा का महत्व क्या है?

Importance of English Language Essay in Hindi

पूरी दुनिया में ज़्यादातर स्कूलों में अंग्रेजी भाषा को प्राथमिकता प्राप्त है। इस भाषा की शब्दावली अत्यंत समृद्ध है, वर्तमान समय में अंग्रेजी के ज्ञान की आवश्यकता विभिन्न क्षेत्रों में एक साथ है।

आजकल, अंग्रेजी सिर्फ़ एक भाषा नहीं है, बल्कि यह एक जीवन शैली है!

यह एक ऐसी भाषा है जो गतिशील भी है और लगातार विकसित हो रही है।

यह सब हो रहा है, मुख्य रूप से सोशल मीडिया और इंटरनेट के कारण से, जहां अधिकांश अंग्रेजी भाषा का ही उपयोग होता है।

आज भारतीय शिक्षा प्रणाली (Indian Education System) में भाषा की स्थिति बदल गई है!

आज अंग्रेजी (English Language) भारत में पहली भाषा बन गई है, दूसरी हिंदी भाषा है और तीसरी स्थानीय/क्षेत्रीय भाषा है।

आज के भारत में, सब के लिए अंग्रेजी भाषा सीखना अनिवार्य हो गया है, क्योंकि यह भारतीय भाषा हिंदी या किसी अन्य स्थानीय भाषा से ज़्यादा कई क्षेत्रों में इस्तेमाल की जाती है।

भारत में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा हिंदी के बाद अंग्रेजी भाषा भाषा का उपयोग ज़्यादा होता है। अंग्रेजी भाषा का अध्ययन बेहतर कैरियर निर्माण के लिए अपना कौशल विकसित करने का अवसर प्रदान करती है और पूरे जीवन भर सहायता करती है।

आज हर भारतीय छात्र यह जानता है कि अंग्रेजी सीखना उनके भविष्य के लिए कितना आवश्यक है।

अंग्रेजी से संबंधित एक और दिलचस्प बात यह है कि पूरी दुनिया में अंग्रेजी तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है और भारत में सबसे ज़्यादा खोजे जाने वाला कीवर्ड है – how to learn english यानी अंग्रेजी कैसे सीखे?

भारत में, एक नए शब्द हिंग्लिश का जन्म हुआ, जो अंग्रेजी और हिंदी भाषा दोनों का एक संयोजन है क्योंकि लोग अंग्रेजी सीखते समय और अंग्रेजी का उपयोग करते समय अंग्रेजी में हिंदी भाषा के शब्दों को मिलाते हैं।

अन्य दूसरे देशों की तरह, अंग्रेजी भाषा भी भारत की व्यवसायिक भाषा है और कॉरपोरेट क्षेत्र में इसका इस्तेमाल होता है,

इसलिए अधिकांश कंपनियां सिर्फ़ ऐसे ही लोगों को नियुक्त करती हैं जो अपने काम में आत्मविश्वास रखते हैं और नौकरी के लिए आवश्यक बुनियादी कौशल रखने के साथ-साथ अच्छी धाराप्रवाह अंग्रेजी भी बोलना जानते हैं।

यदि कोई एक अच्छी नौकरी पाने की इच्छा रखता है, तो उसकी अंग्रेजी भाषा पर अच्छी पकड़ होना बहुत जरूरी है,

भले ही आपको सही शिक्षा और अच्छा अनुभव प्राप्त हुआ हो, जो आपको नौकरी के योग्य बनाता है, फिर भी आपको अंग्रेजी बोलना और पढ़ना आना अनिवार्य होता है।

भविष्य में कोई भी, अपने जीवन में अंग्रेजी भाषा के महत्व (importance of english language) को नजरअंदाज नहीं कर सकता है, क्योकि सबका भविष्य अंग्रेजी भाषा से जुड़ा है।

तथ्य यह है कि अंग्रेजी का अच्छा ज्ञान आपकी सफलता और अच्छी स्थिति की कुंजी है, इसलिए भारत में अंग्रेजी भाषा को प्राथमिकता दी जाती है।

Essay on Coronavirus in Hindi

अंग्रेजी भाषा की लिपि का क्या नाम है?

अंग्रेजी भाषा की लिपि का नाम रोमन है।

अंग्रेजी कितने प्रकार की होती है?

दो प्रकार की, ब्रिटिश अंग्रेजी और अमेरिकन अंग्रेजी

इंग्लिश का जनक कौन है?

जेफ्री चौसर को अंग्रेजी साहित्य का जनक माना जाता है।

भारत में कौन सी अंग्रेजी बोली जाती है?

भारत में ब्रिटिश इंग्लीश पर आधारित अंग्रेजी बोली जाती है।

भारत में कितने लोग इंग्लिश बोलते हैं?

भारत की 10% आबादी अंग्रेजी बोलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here