Franchise in Hindi – फ्रेंचाइजी बिजनेस आइडिया इन इंडिया

franchise business ideas (Hindi) in India kya hai

Franchise outlet, franchisee/franchise business ideas (Hindi), franchiser, franchisor, franchisee agreement meaning in Hindi, best फ्रेंचाइजी business ideas 2020 in India without/low investment, 


यदि आप खुद का व्यवसाय करना चाहते हैं, लेकिन आपके पास कोई व्यवसाय आइडिया (Business Idea) नहीं है और आपके पास व्यवसाय के लिए संसाधन उपलब्ध हैं, तो फ्रैंचाइज़ी खरीदना आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है, लेकिन, खरीदने से पहले अच्छे से रिसर्च करना बहुत ही ज़रूरी है। व्यवसाय के इस तरीके (franchise business ideas) की ख़ास बात यह ही कि फ्रेंचाइजी में आपको पहले से तैयार व्यवसाय प्लान (Business Plan) मिलेगा, इसे शुरू करने से वित्तपोषण (financing) को सुरक्षित करना आसान होगा और यह अन्य व्यवसायों की तुलना में कम जोखिम वाले व्यवसाय होते हैं, इस पोस्ट में franchise से संबंधित जानकारी विस्तार से दी गयी है।

फ्रेंचाइजी (franchise business ideas) क्या है?

फ्रैंचाइज़िंग एक मार्केटिंग अवधारणा पर आधारित व्यवसाय करने का तरीका है जिसे किसी संगठन द्वारा व्यवसाय के विस्तार की रणनीति के रूप में अपनाया जाता है या किसी व्यवसायी व्यक्ति या व्यवसाय ग्रूप को किसी कंपनी द्वारा दिया गया एक प्राधिकरण (authorization), जो उन्हें उस कंपनी के मॉडल के अनुसार व्यावसायिक गतिविधियों को करने में सक्षम बनाता है, फ्रेंचाइजी सिस्टम कहलाता है।

यानी, जब कोई एक व्यवसाय अच्छा परिणाम देने लग जाता है और उसकी मार्केट में डिमांड बढ़ जाती है तो व्यवसायी अपने व्यवसाय मॉडल को किसी अन्य व्यवसायी के साथ कुछ नियम शर्तो के साथ शेयर/साझा करता है तो व्यवसाय के इस सिस्टम को फ्रेंचाइजी कहा जाता है, उदाहरण के लिए दुनिया में सबसे बड़ी फ्रेंचाइजी है मैकडॉनल्ड्स, केएफसी, सबवे, बर्गर किंग आदि।

एक फ्रेंचाइज़र (व्यवसाय का असली मलिक) जब अपने ब्रांडेड उत्पादों और सर्विस की फ्रेंचाइजी को किसी दूसरे व्यवसायी को बेचता है तब उसे अपने व्यवसाय मॉडल की सारी जानकारी, प्रक्रियाओं, बौद्धिक संपदा, व्यवसाय मॉडल का उपयोग का तरीका, ब्रांड नाम और अधिकारों का लाइसेंस प्रदान करता है। एक फ्रेंचाइज़र अपने और फ्रेंचाइजी के बीच एक फ्रैंचाइज़ी समझौता करता है जो लेनदेन के लिए अनुबंध होता है, स्टार्टअप शुल्क व रॉयल्टी को भी रेखांकित करता है।

इस व्यवसाय सिस्टम में फ्रेंचाइज़र व्यवसाय मॉडल को संचालित करने के लिए आवश्यक प्रशिक्षण यानी ट्रेनिंग मुहिया करवाता हैं। इस व्यवसाय मॉडल का यह महत्वपूर्ण लाभ है कि एकदम नये स्टार्ट-अप व्यवसायों की तुलना में फ्रेंचाइजी व्यवसाय के सफल होने के अवसर ज़्यादा होते है और किसी फ्रैंचाइज़ी को खरीदने पर आपको उसी प्रकार का खुद का व्यवसाय शुरू करने में कम लागत आती है।

फ्रेंचाइज़र और फ्रेंचाइजी में अंतर –फ़्रेंचाइज़र” वह व्यक्ति या व्यवसायिक ग्रूप होता है जो व्यापार-चिह्न यानी ट्रेड-मार्क्स और व्यवसाय मॉडल का मालिक है। जबकि “फ्रेंचाइजी” वह व्यक्ति व्यवसायी या व्यवसायी ग्रूप होता है जो फ्रेंचाइज़र से लाइसेंस प्राप्त करके फ्रेंचाइज़र के ट्रेड-मार्क वाले बिजनेस मॉडल/सिस्टम का उपयोग करके अपना व्यवसाय संचालित करता है।

Franchisee outlet & Franchise agreement क्या है?

फ्रैंचाइज़ी अग्रीमेंट (Franchise Agreement) फ्रेंचाइज़र और फ्रेंचाइजी के बीच का एक कानूनी दस्तावेज़ या बाध्यकारी अनुबंध होता है जिसमे एक फ्रेंचाइज़र के लिए फ्रेंचाइजी के नियम & शर्तों की रूपरेखा होती है और जो विस्तार से यह बताता है कि फ्रैंचाइज़र आपसे व्यवसाय मॉडल को लेकर क्या उम्मीद करता है और एक फ्रैंचाइजी के रूप में, किस तरह से आप व्यवसाय के हर पहलू को संचालित करोगे।

Business StartUp क्या होता है और कैसे शुरू करे?

मार्केटिंग कॉन्सेप्ट से भरपूर फ्रेंचाइजी प्रणाली / फ्रेंचाइजी व्यवसाय मॉडल पर आधारित एक दुकान या व्यवसाय की वो जगह जहा आपूर्तिकर्ता यानी ग्राहको के लिए विशेष उत्पादों और सर्विस को बेचा जाता है, फ्रेंचाइजी आउटलेट (Franchisee Outlet) कहलाती है।

Franchise Business Ideas (Hindi) in India

भारत दुनिया में सबसे बड़ी युवा आबादी वाला देश है और हमारा देश कई टॉप अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय व्यवसायों के लिए एक मेगा-मार्केट प्लेस भी है। विभिन्न उद्योग जैसे ऑटोमोबाइल, फास्ट फूड, शिक्षा, सौंदर्य, डाक, वितरण, फैशन, स्वास्थ्य सेवा आदि सब भारतीय बाजार में विस्तार कर रहे हैं। भारत में फ्रैंचाइज़ी बिजनेस मॉडल कई प्राथमिक व्यवसाय के तरीकों में से एक है जिसके माध्यम से कई बड़े ब्रांडों का विस्तार लगातार हो रहा है इसलिए भारतीय युवा उद्यमियों के लिए यह एक लाभदायक व्यवसाय मॉडल है कुछ नया शुरू करने के लिए, और भारत में कई सारे ऐसे मॉडल वाले व्यवसाय के अवसर/विकल्प मौजूद है, उनमे से कुछ इस प्रकार है –

☆ Subway (sandwiches)
☆ Mcdonalds (burgers)
☆ KFC (Kentucky Fried Chicken)
☆ Pizza Hut (Italian American cuisine)
☆ Jumbo King (Vada Pav)
☆ Domino’s Pizza (pizza restaurant chain)
☆ Wow! Momo
☆ Goli Vada Pav
☆ Jawed Habib Hair and Beauty Ltd.
☆ Affinity Salon
☆ DTDC (courier delivery services)
☆ Giani’s Ice Cream
☆ LensKart (Sunglasses, Eyeglasses, Contact Lenses)
☆ FabIndia (garments, furnishings, fabrics, ethnic products)
☆ Kake Di Hatti ( Punjabi fine-dine)
☆ Salad Story (Nutritious Salads & Smoothies)
☆ EuroKids (Preschool & Play School)

Franchise Business (व्यवसाय) के फायदे

फ्रेंचाइजी व्यवसाय शुरू करने के कई सारे फायदे है लेकिन फ्रैंचाइज़िंग में कुछ जोखिम भी शामिल होते हैं, इसलिए एक सफल फ्रैंचाइज़ी व्यवसाय विकसित करने के लिए आपको सावधानीपूर्वक व्यवसाय नियोजन, लगातार काम पर निगरानी और काम में माहिर लोगो से समर्थन की आवश्यकता भी होती है। फ्रेंचाइजी व्यवसाय के फायदे इस प्रकार है –

★ प्रत्येक फ्रेंचाइजी यूनिट का स्थानीय प्रबंधन बहुत ही प्रभावी होता है, इससे आम तौर पर बिक्री और लाभ का स्तर लगातार बढ़ता रहता है।
★ एक फ्रैंचाइज़ी नेटवर्क संचालित करने के लिए कम कर्मचारियों की आवश्यकता होती है।
★ फ्रैंचाइज़ी व्यवसाय उतनी ही तेजी से बढ़ता है जितना फ्रेंचाइज़र अपने फ्रैंचाइज़ी को प्रशिक्षित करता है और उसको सहयोग देकर व्यवसाय के बुनियादी ढांचे को विकसित कर सकता है।
★ फ्रेंचाइज़र फ्रेंचाइजी आउटलेट के रोज के कार्यों में शामिल नहीं होता है, इससे काम में आज़ादी रहती है।
★ फ्रेंचाइज़र सहकारी विज्ञापन और प्रचार पहल के माध्यम से लक्ष्य ग्राहक तक अधिक प्रभावी ढंग पहुँचता है, इससे फ्रेंचाइजी आउटलेट को भी लाभ मिलता है।
★ फ्रैंचाइज़र फ्रैंचाइज़िंग का उपयोग अपने ग्राहकों की वफादारी बनाने के लिए करते हैं, जिससे ज़्यादा ग्राहकों को आकर्षित किया जा सकता है।
★ फ्रेंचाइजी व्यवसायी स्वतंत्र होता हैं, वो कभी-कभी फ्रेंचाइजी सिस्टम से संबंधित अपने दायित्वों की अवहेलना कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here