वर्चुयल क्रेडिट कार्ड (VCC) क्या होता है?

virtual credit card (VCC) in Hindi

आज हर कोई Credit Card और Debit Card का इस्तेमाल, किसी भी तरह की ऑनलाइन या ऑफलाइन शॉपिंग के लिए Online Payment करने के लिए करता है, ये कार्ड Visa Card या Mastercard या अन्य कार्ड हो सकते है, इस ऑनलाइन लेन-देन में Card की Security बहुत जरुरी होती है, हम डरते है कही कोई हमारे कार्ड का नंबर चुरा कर इसका गलत इस्तेमाल न कर ले या फिर कभी कार्ड खो जाये या कोई चुरा ले तो क्या होगा, ऐसे ही कई बाते है, ऐसे समस्याओ को दूर करने या खत्म करने के लिए एक समाधान है – Virtual Credit Card (VCC)

Virtual Credit Card (VCC) क्या है?

वर्चुअल क्रेडिट कार्ड (virtual credit card) एक इलेक्ट्रॉनिक कार्ड (e-card) होता है, जिसे क्रेडिट या डेबिट कार्ड के विवरण/ card detail के जरिये, बैंक की नेट बैंकिंग सुविधा का उपयोग करके बनाया जा सकता है, और इसके लिए कोई शुल्क भी नहीं देना पड़ता है।

इस तरह के क्रेडिट कार्ड केवल ऑनलाइन ही उपलब्ध होते हैं, इनका कोई भौतिक रूप यानि physical form नहीं होता है, और ऐसे कार्ड विशेष रूप से ऑनलाइन लेनदेन करने के लिए ही बनाए जाते हैं, वर्चुअल क्रेडिट कार्ड में भी एक नियमित क्रेडिट कार्ड की तरह ही कार्ड नंबर, सीवीवी और वैधता तिथि होती है।

अधिकांश क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता / कार्ड जारी करने वाले बैंकर, अपने ग्राहक लेनदेन को आसान बनाने और उपयोग में सुरक्षा में सुधार के लिए वर्चुअल क्रेडिट कार्ड ही प्रदान करते हैं या ऐसे कार्ड के लिए सलाह देते हैं, यह एक आम क्रेडिट कार्ड का वर्चुअल रूप होता है।

यदि आपके पास किसी बैंक द्वारा जारी किया हुआ क्रेडिट या डेबिट कार्ड या प्राइमरी Credit Card है और आपको Virtual Credit Card (VCC) बनवाना है तो आपके उसी कार्ड के इस्तेमाल से नया वर्चुअल कार्ड बनाया जायेगा, जो एक प्लास्टिक कार्ड की जगह एक आभासी / वर्चुअल फॉर्म में होगा, जिसे e-Card भी कहा जाता है, और इस Virtual Card को आप अपने हिसाब से कण्ट्रोल या काम में ले सकते है।

Virtual Credit Card (VCC) कैसे बनता है?

आप बैंकों के साथ-साथ NBFIs (गैर-बैंक वित्तीय संस्थानों) के माध्यम से भी मुफ्त में वर्चुअल क्रेडिट कार्ड बनवा सकते हैं, जो आमतौर पर मोबाइल ऐप या मोबाइल वॉलेट के माध्यम से वर्चुअल क्रेडिट कार्ड प्रदान करते हैं। ICICI और Axis बैंक के डिजिटल वॉलेट ऐप पर Sign Up करने पर मुफ्त, बिना शुल्क के वर्चुअल क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

Axis बैंक लाइम वॉलेट – यह Axis बैंक का एक आधिकारिक money transfer wallet है, यदि आप इस वॉलेट पर Sign Up करते है तो आपको एक्सिस बैंक द्वारा एक फ्री Mastercard Virtual Credit Card या Shopping Card (lime wallet virtual card) प्रदान की जायेगा।

ICICI पॉकेट वॉलेट – यह ICICI बैंक का एक आधिकारिक money transfer wallet है, इसके जरिये भी आप VISA International Virtual Credit Card (icici pockets virtual card) प्राप्त कर सकते है।

इनके अलावा भी कई सारे वर्चुअल कार्ड प्रोवाइडर्स मौजूद है जैसे Udio वॉलेट, YES Pay, EntroPay, DigiPurse, Kotak 811, डिजिबैंक आदि।

Virtual Credit Card (VCC) कैसे काम करता है?

एक वर्चुअल केडिट कार्ड केवल ऑनलाइन लेनदेन के लिए ही उपलब्ध है, इससे physically स्वाइप नहीं किया जा सकता है। ऑनलाइन शॉपिंग या खरीदारी के भुगतान के लिए इसका उपयोग करते समय, उपयोगकर्ता को लेनदेन पूरा करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होता है –

1. अपना कार्ड नंबर इनपुट करें।
2. आवश्यक कार्ड वैधता दर्ज करें।
3. पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी के साथ सत्यापित करें।
4. लेन-देन पूरा करे।

वर्चुयल क्रेडिट कार्ड Account क्या होता है?

एक वर्चुअल क्रेडिट कार्ड अकाउंट, आपके वास्तविक क्रेडिट कार्ड से जुड़ा हुआ खता होता है जो आपको एक randomly generated कार्ड नंबर प्रदान करता है। कार्ड जारीकर्ता के अनुसार आप वर्चुअल नंबर के लिए अधिकतम शुल्क निर्धारित करने में सक्षम हो सकते हैं, जिससे आपके लेनदेन की सुरक्षा हो सकेगी, और आप अपनी निर्माण तिथि / कार्ड creation date से एक वर्ष तक के लिए expiry date / समाप्ति दिनांक तय कर सकते हैं।

वर्चुयल क्रेडिट कार्ड के क्या-क्या फायदे है?

■ Virtual Credit Card के इस्तेमाल से आप किसी भी तरह के Scam या Fraud से बच सकते है।
■ इस कार्ड से ऑनलाइन पेमेंट करने से आपका Credit Card नंबर, और अन्य डाटा सुरक्षित रहेगा।
■ वर्चुअल क्रेडिट कार्ड को, देश के बाहर इंटरनेशनल लेवल पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
■ इस कार्ड को बनवाने के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना पड़ता है यानि यह Free of Cost बनता है।
■ यह कार्ड एक निश्चित लेनदेन सीमा के साथ आता है, जिससे इसकी सुरक्षा बढ़ जाती है।
■ कोई भी कार्डधारक VCC के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, और कभी सुरक्षा के लिहाज़ से कोई खतरा लगता है तो तुरंत ऑनलाइन ब्लॉक भी कर सकता है।

अन्य भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here