provident fund pf

(प्रोविडेंट फंड) pf online kaise nikale in hindi?

provident fund pf

एंप्लायीस प्रोविडेंट फंड (Employees Provident Fund) का हिन्दी में मतलब कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) होता है जिसे आमतौर पर PF के नाम से जाना जाता है, यह एक अनिवार्य, सरकार द्वारा प्रबंधित सेवानिवृत्ति बचत योजना है जो अधिकांश भारतीयों के लिए सेवानिवृत्ति के बाद की वित्तीय जीवन रेखा का काम करती है। इस पोस्ट में प्रोविडेंट फंड (provident fund in hindi) के बारे में विस्तार से जानेंगे जैसे provident fund kya hota hai, provident fund kaise check kare, epf balance check on mobile, epf kyc update online process, epf online withdrawal या online pf withdrawal kaise kare?

Provident Fund pf Kya Hota hai – Provident Fund in Hindi
Provident Fund Kaise Check Kare – EPF balance check on mobile
E
PF KYC update online process – How can I update my epf kyc?
EPF online withdrawal – Online pf withdrawal kaise kare?
provident fund pf

सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीस, भारत में संगठित क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों के लिए एक अंशदायी भविष्य निधि, पेंशन योजना और एक बीमा योजना का प्रबंधन करता है। इस बोर्ड को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन Employees’ Provident Fund Organisation (EPFO) द्वारा सहायता प्रदान की जाती है, जिसमें देश भर के 135 स्थानों पर कार्यालय शामिल हैं।

प्रोविडेंट फंड pf क्या होता है?

प्रॉविडेंट फंड pf एक तरह से पेंशन का ही दूसरा नाम है जिसका उद्देश्य किसी कम्पनी के कर्मचारियों को उनके रोजगार के स्थान से बाहर निकलने यानि निवृत्ति के समय एकमुश्त भुगतान प्रदान करना होता है। यह पेंशन फंड से थोड़ा सा अलग इस प्रकार है, इसमें एकमुश्त (लम-शम) और मासिक पेंशन भुगतान दोनों शामिल होते हैं। प्रोविडेंट फण्ड में कर्मचारियों, नियोक्ताओं और कभी-कभी राज्य द्वारा निवेश फंड का योगदान होता है, जिसमें से प्रत्येक कर्मचारी को सेवानिवृत्ति पर एक लम-शम राशि प्रदान की जाती है।

ईपीएफ (EPF) योजना के तहत, एक कर्मचारी को इस योजना के लिए एक निश्चित धन राशि का योगदान देना होता है और नियोक्ता द्वारा भी एक समान धन राशि का योगदान दिया जाता है। कर्मचारी के सेवानिवृत्ति (Retirement) पर, ब्याज के साथ स्वयं और नियोक्ता द्वारा प्रदान योगदान वाली धन राशि सहित एक अच्छी खासी धन राशि (प्रोविडेंट फण्ड) मिलती है। EPF में ब्याज की गणना कर्मचारी और नियोक्ता दोनों के द्वारा योगदान की गयी धन राशि से की जाती है। कर्मचारी और नियोक्ता द्वारा किए गए योगदान उसके मूल वेतन के 12% या 10% के बराबर होते है, और इसमें महंगाई भत्ता (डीए) भी शामिल होता है। 

प्रोविडेंट फंड कैसे चेक करे?

ईपीएफओ (Employees’ Provident Fund Organisation) की वेबसाइट पोर्टल पर आप अपने ईपीएफ खाते की शेष राशि की जांच कर सकते हो, इसके लिए, आपके पास एक सक्रिय यूनिवर्सल खाता संख्या (यू ए एन) होनी चाहिए। अपना प्रोविडेंट फण्ड का बैलेंस चेक करने के लिए आपको https://passbook.epfindia.gov.in/MemberPassBook/Login.jsp पर जाना होगा और वहा अपना यू ए एन और पासवर्ड डालना होता है, की वेबसाइट आपको अपना ईपीएफ खाता विवरण देखने और विवरण को डाउनलोड करने की अनुमति देती है।

epf kyc को ऑनलाइन कैसे अपडेट करे?

EPF kyc को ऑनलाइन अपडेट करने या ईपीएफ यूएएन पर केवाईसी दस्तावेज अपलोड करने के लिए, नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें –

  • सबसे पहले ईपीएफओ के मेंबर पोर्टल https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface पर जाएं।
  • इसके बाद अपने यू ए एन और पासवर्ड का उपयोग करें।
  • फिर लॉग इन करने के लिए कैप्चा भरें और Sign in पर क्लिक करे।
  • पोर्टल में Sign in करने के बाद, top menu bar से ‘Manage‘ विकल्प पर जाएं।
  • एक बार जब आप उस पर क्लिक करते हैं, तो ड्रॉप-डाउन मेनू से ‘KYC‘ विकल्प चुनें।
  • KYC‘ विकल्प पर क्लिक करने के बाद, एक नया पृष्ठ पर फिर से निर्देशित होगा जिसमें विभिन्न ‘Document Type‘ के साथ एक सूची होगी और उनके बगल में संबंधित फ़ील्ड, जो दस्तावेज़ के विवरण के साथ भरे जाने होते हैं।
  • उस दस्तावेज़ टाइप के बगल में स्थित चेकबॉक्स पर क्लिक करें जिसे आप ‘Document Number‘ और ‘Name as per Document‘ भरना चाहते हैं।
  • एक बार जब आप विवरण अपडेट कर लेते हैं तो ‘Save‘ विकल्प पर क्लिक करें।
  • एक बार जब आप अपने दस्तावेज़ का विवरण अपडेट कर लेते हैं, तो आपके KYC दस्तावेज़ की स्थिति ‘KYC Pending for Approval‘ कॉलम के तहत दिखाई जाएगी। जब आपके नियोक्ता दस्तावेज़ को सत्यापित कर लेते है और इसे मंजूरी दे दी जाती है, तो स्थिति ‘Digitally Approved KYC‘ के तहत दिखाई देने लगती है।
  • एक बार जब आपका नियोक्ता आपके दस्तावेज़ को मंजूरी दे देता है, तो आपको उसी की पुष्टि करने वाला एक एसएमएस प्राप्त होता है।

Online pf withdrawal कैसे करे?

PF withdrawal करने से पहले विचार करें की वास्तव में आपको कितने पैसे की आवश्यकता है, क्योंकि पी एफ पैसे का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो आपके बुढ़ापे को सुरक्षित करता है। बिना किसी जरुरत के पी एफ से पैसा निकालने  का मतलब एक अद्भुत वित् सुरक्षा को ख़त्म कर देना होता है, यदि आपका प्रोविडेंट फण्ड अकाउंट है और आप इस अकाउंट से नकदी निकलने के लिए बेताब हैं, तो आप यहां दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

1. जरुरी दस्तावेज तैयार करें –

ऑनलाइन या ऑफलाइन पी एफ निकालने के लिए कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) को प्रोविडेंट अकाउंट से सम्बंधित जरुरी दस्तावेज जमा करने पड़ते है। यहां कुछ दस्तावेजों की सूचि दी गयी हैं जिनकी आपको आवश्यकता पड़ेगी।

  • आधार कार्ड (Aadhar Card)
  • स्थायी खाता संख्या (PAN)
  • ईपीएफओ (EPFO) द्वारा जारी यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN)

2. पीएफ बैलेंस चेक करें –

प्रोविडेंट फण्ड अकाउंट से पैसे निकालने से पहले आपको पी एफ बैलेंस चेक करना ही पड़ता है और पीएफ बैलेंस बहुत ही आसान तरीके से चेक कर सकते हैं।

  • UMANG App (EPF पासबुक) के माध्यम से
  • कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) की वेबसाइट (EPF पासबुक) के माध्यम से
  • निकटतम ईपीएफओ (EPFO) कार्यालय में जाकर 
  • एसएमएस SMS के माध्यम से

3. फाइल पी एफ क्लेम –

पी एफ राशि निकलवाने के लिए PF क्लेम दायर करना होता है, जो आपके पास मौजूद प्रोविडेंट फण्ड के दस्तावेजों के टाइप पर निर्भर करता है। पी एफ निकासी के चार अलग-अलग तरीके मौजूद है जिनमे से ऑनलाइन पी एफ निकलवाने (Online pf withdrawal) के तरीके की जानकारी निचे विस्तार से दी गयी है।

Online PF Withdraw के तरीके

यदि आपके पास प्रोविडेंट फण्ड अकाउंट से पैसे निकलवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज तैयार है तो आप दो आसान तरीको से ऑनलाइन pf withdrawal कर सकते है।

1. ईपीएफओ (EPFO) की वेबसाइट पर ऑनलाइन अप्लाई करके –

  • सबसे पहले आपको (EPFO) की वेबसाइट पर अपने यू ए एन (UAN) और अन्य व्यक्तिगत जानकारी विवरण का इस्तेमाल करके उपयोगकर्ता के रूप में पंजीकरण करना होता है।
  • सफल पंजीकरण होने के बाद, ऑनलाइन क्लेम या सदस्य खाता स्थानांतरण (Online Claims/ Member Account Transfer) लिंक पर जाएं।
  • अब आपको यू ए एन (UAN) और अपने चुने हुए पासवर्ड के साथ लॉग इन करना है।
  • इसके बाद क्लेम लिंक पर क्लिक करें।
  • अब संबंधित सारी जानकारी विवरण भरें।
  • इसके बाद अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर आने वाले ओटीपी के साथ अपने लेनदेन की पुष्टि करें।

NOTE: यदि आपके पास UAN नहीं है, तो अपने पैन कार्ड और अन्य पहचान दस्तावेजों के साथ नजदीकी EPFO ​​कार्यालय से संपर्क करें।

2. UMANG ऐप के जरिये –

  • सबसे पहले आप UMANG (Unified Mobile Application for New-age Governance) एप्लीकेशन डाउनलोड करके इंस्टॉल करें।
  • UMANG डाउनलोड करने पर, आवश्यक पंजीकरण प्रक्रियाओं को पूरा करें।
  • एक बार जब आपका UMANG ऐप पंजीकृत हो जाता है, तो उस मेनू पर जाएं जो विभिन्न सेवाओं को इंगित करता है। यहां आपको ईपीएफओ (EPFO) का लोगो मिलेगा।
  • अब आप ईपीएफओ (EPFO) के लोगो पर क्लिक करें जिससे ऐप कई प्रकार की सेवाओं को प्रदर्शित करेगा।
  • एप्लिकेशन पर कर्मचारी सेंट्रिक सेवाओं (Employee Centric Services) का चयन करें।
  • अब एप्लीकेशन विभिन्न सेवाओं को प्रदर्शित करेगा, जिसमें पीएफ अकाउंट की वापसी (withdrawal of PF account) और पूर्ण निकासी (full withdrawal) के विकल्प शामिल होते है।
  • आपको इनमे से जिस सेवा की आवश्यकता है, उसका चयन करें।
  • आगे, आपको अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए यूनिवर्सल अकाउंट नंबर (UAN) और अन्य विवरण देने होते है।
  • सत्यापन करने पर, आपको एक OTP प्राप्त होगा।
  • अब आप आवश्यक विवरण भरें और विथड्रॉ करने के लिए OK key पर क्लिक करें
  • इसके बाद आपको एसएमएस के द्वारा सूचित किया जायेगा कि ईपीएफओ को एक विथड्रॉ का अनुरोध प्राप्त हुआ है।

आपका अनुरोध ईपीएफओ कार्यालय को भेजा जाएगा जो आगे की प्रक्रिया के लिए आपका अलग से एक खाता रखता है और आप कुछ दिनों के बाद अपने क्लेम की स्थिति देख सकते हैं।

अन्य भी पढ़े –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *